• Powered by

  • Anytime Astro Consult Online Astrologers Anytime

Rashifal Rashifal
Raj Yog Raj Yog
Yearly Horoscope 2023
Janam Kundali Kundali
Kundali Matching Matching
Tarot Reading Tarot
Personalized Predictions Predictions
Today Choghadiya Choghadiya
Anushthan Anushthan
Rahu Kaal Rahu Kaal

East Facing House Vastu Tips in Hindi

East Facing House Vastu Tips in Hindi

Updated Date : Friday, 30 Jul, 2021 09:19 AM

पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु टिप्स

क्या आप पूर्वमुखी घर बनाने की सोच रहे हैं? पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु नियमों पर विचार करने से आपको सकारात्मक ऊर्जा का संचार करने में मदद मिल सकती है और आपके घर में शुभता और समृद्धि आ सकती है। वास्तु शास्त्र के अनुसार, पूर्व मुखी घर वहां रहने वाले सदस्यों और उसके मालिक के लिए बहुत भाग्यशाली होते हैं, हालांकि, पूर्व मुखी घर के लिए कुछ विशेष वास्तु टिप्स हैं जिनका पालन घर खरीदते और डिजाइन करते समय किया जाना चाहिए।

पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु के बारे में जानें और अपने को अधिक भाग्यशाली और अनुकूल बनाने के लिए घर के वास्तु टिप्स जानें।

पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु प्लान

ईस्ट फेसिंग हाउस वास्तु के अनुसार, पूर्व-मुखी संपत्ति इमारतों और बहु-मंजिला अपार्टमेंट के लिए अच्छी होती है, हालांकि, जब स्वतंत्र घर बनाने की बात आती है, तो सामान्यतः पूर्व-मुखी घर भाग्यशाली नहीं होते हैं। दूसरी ओर, पूर्व की ओर मुख वाले घर उन लोगों के लिए बहुत भाग्यशाली माने जाते हैं जो आधिकारिक और शक्ति-व्यायाम जैसे कामों से जुड़े होते हैं। चूंकि पूर्व दिशा फुर्ती, रचनात्मकता और ध्यान केंद्रित करने की दिशा है, इसलिए ये घर फ्रीलांसरों, कलाकारों, रचनात्मक लेखकों, स्वरोजगार करने वाले लोगों के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं।

यहां पूर्वमुखी घर के लिए कुछ वास्तु नियम और सिद्धांत दिए गए हैं जिनका घर बनाते समय पालन करना चाहिए।

पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु टिप्सः मुख्य द्वार

  • पूर्वमुखी घर के लिए मुख्य द्वार वास्तु पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता होती है। यहां पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु के नियम बताए गए हैं जिनका आपको पालन करने की आवश्यकता हैः
  • पूर्वमुखी घर का मुख्य द्वार हमेशा मध्य भाग में ही रखें।
  • पूर्वमुखी घर के दक्षिण-पूर्व या उत्तर-पूर्व दिशा में कभी भी मुख्य द्वार ना बनाएं। पूर्वमुखी घर के वास्तु के अनुसार, ये दोनों कोने बहुत अशुभ होते हैं और घर में नकारात्मकता और प्रतिकूलता लाते हैं।
  • पूर्व मुखी घर के उत्तर-पूर्व कोने में मुख्य द्वारः यदि किसी भी तरह से मुख्य द्वार घर के उत्तर-पूर्व कोने में है, तो सुनिश्चित करें कि दरवाजे दीवारों के कोनों को छूते ना हों। मुख्य द्वार और दीवार के बीच 1/2 फीट या 6 इंच का अंतर छोड़ने का प्रयास करें।
  • पूर्व मुखी घर के दक्षिण-पूर्व कोने में मुख्य द्वारः यदि पूर्व मुखी घर का मुख्य द्वार दक्षिण-पूर्व कोने में है, तो इन वास्तु टिप्स का पालन करेंः
  • दरवाजे के दोनों ओर और मुख्य द्वार के ऊपर वास्तु पिरामिड रखें।
  • दरवाजे के दोनों ओर ओम, स्वास्तिक या त्रिशूल बनाएं।
  • घर में सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाने के लिए मुख्य द्वार पर सिद्ध शुक्र यंत्र या सिद्ध वास्तु कलश का प्रयोग करें।

वास्तु के अनुसार मुख्य द्वार के लिए सर्वोत्तम दिशा।

पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु टिप्सः मास्टर बेडरूम

  • वास्तु के अनुसार पूर्व मुखी घर में, मास्टर बेडरूम को दक्षिण-पश्चिम दिशा में बनाऐं।
  • अपने बिस्तर को कमरे की दक्षिण या पश्चिम दिशा की ओर इस तरह रखें कि सोते समय आपका सिर दक्षिण या पश्चिम दिशा में हो और आपके पैर उत्तर या पूर्व दिशा में हों।
  • पूर्व मुखी घर के मास्टर बेडरूम में स्नानघर अपने बिस्तर के सामने नहीं होना चाहिए। बाथरूम के दरवाजा हर समय बंद रखना चाहिए।

पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु टिप्सः लिविंग रूम

  • पूर्व मुखी घर में लिविंग रूम को उत्तर-पूर्व दिशा में बनाऐं। पूर्व मुखी घर वास्तु शास्त्र के अनुसार यह दिशा शुभ और भाग्यशाली मानी जाती है।
  • दक्षिण और पश्चिम दिशा की बड़ी और मोटी दीवारों के अनुसार व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन में सफलता और समृद्धि आती है। इसलिए लिविंग रूम के उत्तर और पूर्व की ओर की दीवारें दक्षिण और पश्चिम की दीवारों की तुलना में छोटी और पतली होनी चाहिए।
  • बेडरूम वास्तु - वास्तु के अनुसार सोने की दिशा।

जाने पानी की टंकी के लिए वास्तु

पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु टिप्सः किचन

  • यदि आपकी रसोई दक्षिण-पूर्व दिशा में है, तो सुनिश्चित करें कि खाना बनाते समय आपका मुख पूर्व दिशा में हो।
  • यदि आपका किचन उत्तर-पश्चिम दिशा में है, तो सुनिश्चित करें कि खाना बनाते समय आपका मुख पश्चिम दिशा में हो।
  • पूर्व मुखी घर के उत्तर-पूर्व कोने में रसोई घर बनाने से बचें।

जाने रसोई के लिए 7 वास्तु टिप्स

पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु टिप्सः पूजा रूम

  • वास्तु के अनुसार पूर्व मुखी घर में पूजा रूम उत्तर-पूर्व दिशा में होना चाहिए।
  • पूर्व मुखी घर में क्या करना चाहिए
  • पूर्वमुखी घर के वास्तु सिद्धांत के अनुसार, घर के पूर्व और उत्तर दिशा में जगह हमेशा खाली छोड़ दें।
  • सुनिश्चित करें कि पूर्व मुखी घर की चारदीवारी प्लाट के दक्षिणी और पश्चिमी किनारों में ऊंची होनी चाहिए।
  • सुनिश्चित करें कि घर की उत्तर-पूर्व दिशा में कोई शौचालय या बेडरूम ना हो।
  • पूर्व मुखी घर के उत्तर-पूर्व कोने में कभी भी सेप्टिक टैंक का निर्माण न करें। गंदे पानी की निकासी के सही स्थान के लिए घर के सेप्टिक टैंक वास्तु नियमों का पालन करें।
  • घर के ईशान कोण में क्रिस्टल ग्लोब रखें। वास्तु सिद्धांतों के अनुसार पूर्व मुखी घर में छात्रों की एकाग्रता में सुधार होता है।
  • यदि पूर्वमुखी घर का प्लॉट ढलान वाला हो तो वह दक्षिण से उत्तर दिशा की ओर होना चाहिए।
  • अपने घर की पूर्व दिशा में हमेशा खुली जगह रखें।

आप की सभी समस्याओ का समाधान पूजा-कक्ष का वास्तु कर सकता है।

पूर्व मुखी घर में क्या नहीं करना चाहिए

  • बिस्तर के सामने शीशा लगाने से बचें। शीशा इस तरह से लगाना चाहिए कि सोते समय उस पर आपका प्रतिबिंब न आए।
  • पूर्वमुखी घर की उत्तर या पूर्व दिशा में कभी भी बड़े पेड़ नहीं लगाने चाहिए। हालांकि, अगर पेड़ पहले से हैं तो उन्हें काटा भी नहीं जाना चाहिए। आपको इसके वास्तु दोष को खत्म करने के लिए किसी ऑनलाइन वास्तु विशेषज्ञ से सलाह लेनी चाहिए।
  • घर के ईशान कोण में गैरेज नहीं बनवाना चाहिए।
  • सुनिश्चित करें कि घर के प्रवेश द्वार और उत्तर-पूर्व दिशा में कोई रूकावट ना हो।
  • घर के सीढ़ी के वास्तु के अनुसार, पूर्व मुखी घर में सीढ़ियों के लिए उत्तर-पूर्व दिशा शुभ नहीं होती है।
  • ऐसा प्लॉट खरीदना पसंद करें जिसकी उत्तर दिशा में भी प्लॉट हो। पूर्व मुखी घर के लिए वास्तु के अनुसार, यह मालिक के लिए भाग्य और समृद्धि लाता है।
  • ईस्ट फेसिंग हाउस वास्तु के अनुसार कभी भी उत्तर से दक्षिण की ओर ढलान वाला प्लॉट ना खरीदें।

जाने वास्तु के अनुसार सेप्टिक टैंक की स्थिति

यदि आपने पूर्व मुखी घर बना लिया है या पहले ही खरीद लिया है, तो आपको अपने घर को अधिक सकारात्मक और समृद्ध बनाने के लिए वास्तु विशेषज्ञ से बात करनी चाहिए। वास्तु सिद्धांतों का पालन करने और घर में अधिक सकारात्मकता लाने के लिए ज्योतिष विशेषज्ञ परामर्श आपको सर्वोत्तम संभव तरीका जानने में मदद कर सकता है।

Talk to Astrologer

Marital Conflict? Love Relations Problems? Match making and Relationship Consultation on Call.

Love

Lack Of Job Satisfaction and Career Problems? Consult with Astrologer for Career and Success.

Career

Lack Of Money, Growth and Business Problems? Get Remedies and Solutions by Astrologer on Call.

Finance

Accuracy and Satisfaction Guaranteed


Leave a Comment

Chat btn